Hindi love Shayari

Posted by- Gaurav Yadav 29 Aug , 2017 Views 286 Motivational

रहती है छाँव क्यों मेरे आँगन में थोड़ी देर
इस जुर्म पर पड़ोस का वो पेड़ कट गया....

"शब्द" के भी कोष में मिलता नही अर्थ है......
आदमी को समझने में आदमी असमर्थ है..........